नमस्कार 🙏 हमारे न्यूज पोर्टल - मे आपका स्वागत हैं ,यहाँ आपको हमेशा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे +91 8894723376 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें , मुख्यमंत्री सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने कहा कि हिमाचल प्रदेश की जनता के हर विश्वास पर खरा उतरने का प्रयास करेंगे। हिमाचल का चहुमुखी विकास करना कांग्रेस का मूल लक्ष्य है।  – लाइव ऑल हिमाचल न्यूज

मुख्यमंत्री सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने कहा कि हिमाचल प्रदेश की जनता के हर विश्वास पर खरा उतरने का प्रयास करेंगे। हिमाचल का चहुमुखी विकास करना कांग्रेस का मूल लक्ष्य है। 

😊 कृपया इस न्यूज को शेयर करें😊

    राजस्व चौकीदार तथा अंशकालिक कर्मियों के मानदेय को 5 हजार से बढ़ाकर 5500 रुपए प्रतिमाह करने का निर्णय लिया गया, जिससे प्रदेश के लगभग 1950 लाभार्थियों को लाभ मिलेगा। हिमाचल प्रदेश सरकार ने जारी की अधिसूचना

हर वर्ग को सन्तुष्ट करने का किया है सरकार ने प्रयास

शिमला,4 March, LAHN: हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री सुखविंद्र सिंह सुखू ने चुनाव में किए हुए वायदो को अमलीजामा पहनाते हुए चिरलंम्वित पड़ी मांगों पर एंव बजट के मुख्य अंशो पर शिमला में पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि जब हमने सत्ता संभाली तो प्रदेश की आर्थिक स्तर पर दशा और‌ दिशा दोनों दयनीय हालत में थे अर्थात  एक वर्ष पहले कांग्रेस की सरकार बनी। खराब आर्थिक स्थिति थी, उस पर नियंत्रण साधा। जिस प्रदेश पर 75 हजार करोड़ रुपये का कर्ज हो, कर्मचारियों की 10 हजार करोड़ रुपये की देनदारियां थीं। लेकिन अपनी सार्थक नीतियों व कार्यक्रमों के बाद हमने इसका सामना किया। सुख्खू ने कहा कि हिमाचल प्रदेश की जनता के हर विश्वास पर खरा उतरने का प्रयास करेंगे।

          हिमाचल मंत्रिमंडल ने बजट में राजस्व विभाग के नम्बरदारों के मानदेय को 3200 से बढ़ाकर 3700 रुपए प्रतिमाह करने को स्वीकृति प्रदान की। इस निर्णय से प्रदेश के 3177 नम्बरदार लाभान्वित होंगे।

इसके अतिरिक्त आर्थिक तंगी से झूज रहे राजस्व चौकीदार तथा अंशकालिक कर्मियों के मानदेय को 5 हजार से बढ़ाकर 5500 रुपए प्रतिमाह करने का निर्णय लिया गया, जिससे प्रदेश के लगभग 1950 लाभार्थियों को लाभ मिलेगा।

वित्त विभाग की जारी अधिसूचना के आधार पर अंशकालिक वर्करों को 1 अप्रैल 2023 से संशोधित दरों पर 47 रुपये प्रति घंटे का भुगतान होगा। इसी के साथ -साथ जनजातीय क्षेत्रों में तैनात सभी दैनिक वेतनभोगियों, अंशकालिक वर्करों को संशोधित दैनिक वेतन में 25 फीसदी की वृद्धि दी जाएगी। इसी के अन्तर्गत सरकारी विभागों, सार्वजनिक उपक्रमों, विश्वविद्यालयों, स्वायत्त निकायों, बोर्ड आदि में तैनात दैनिक वेतनभोगियों और अंशकालिक वर्करों पर भी लागू रहेंगे।राज्य सरकार ने दिहाड़ीदारों की दिहाड़ी में भी बढ़ोतरी कर दी गई है। इस संबंध में प्रधान सचिव वित्त मनीष गर्ग ने सभी प्रशासनिक सचिवों को निर्देश जारी कर दिए हैं। 1 अप्रैल से दिहाड़ीदारों की 51 श्रेणियों के मानदेय में 25 रुपये की वृद्धि के बाद दिहाड़ी 350 रुपये से बढ़ाकर 375 रुपये कर दी गई है।इन 51 श्रेणियों में बेलदार, मेट, कुक, माली, मेट, चौकीदार, हेल्पर, स्वीपर, स्टोर अटेंडेंट, चेनमेन, पाइप लाइनमैन, फायर वाचर, वाटर गार्ड आदि शामिल हैं। इसके अलावा अर्धकुशल और कुशल श्रमिकों की दिहाड़ी को भी बढ़ा दिया गया है। जैसे मैकेनिक, वेल्डर, टर्नर, ब्लैक स्मिथ, सैंड प्लांट ऑपरेटर, प्लंबर आदि श्रेणियों की दिहाड़ी 424 रुपये कर दी गई है। जूनियर स्केल स्टेनों, कृषि विस्तार अधिकारी, सर्वेयर, फोरमैन आदि की दिहाड़ी 517 रुपये कर दी गई है।

           मुख्यमंत्री सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने कहा कि 18 से 80 वर्ष आयु की सभी महिलाओं को जीवनभर के लिए नए वित्तीय वर्ष में 1500 रुपये मासिक पेंशन दी जाएगी।  वित्त वर्ष 2024-25 से इंदिरा गांधी प्यारी बहना सुख सम्मान निधि योजना पूरे प्रदेश में लागू करने का निर्णय लिया गया है। योजना से तकरीबन 5,00,000,00 से अधिक महिलाओं को लाभ मिलेगा इसका लाभ उठाने वाली महिलाओं के फॉर्म भरे जाएंगे।  इस योजना पर 800 करोड़ रुपये प्रति वर्ष खर्च होगा। कहा कि 60 वर्ष से अधिक आयु की महिलाओं को पहले से पेंशन दी जा रही है, जिसे इस योजना के तहत 1150 से बढ़कर 1500 रुपये किया है।

Whatsapp बटन दबा कर इस न्यूज को शेयर जरूर करें 

Advertising Space


[responsivevoice_button voice="Hindi Male"]