नमस्कार 🙏 हमारे न्यूज पोर्टल - मे आपका स्वागत हैं ,यहाँ आपको हमेशा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे +91 8894723376 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें , बस स्टॉप पर आए दिन प्राइवेट डग्गामार वाहन चालको द्वारा सवारियां भरे जाने का मामला अक्सर सुर्खियों में रहता है। – लाइव ऑल हिमाचल न्यूज

बस स्टॉप पर आए दिन प्राइवेट डग्गामार वाहन चालको द्वारा सवारियां भरे जाने का मामला अक्सर सुर्खियों में रहता है।

😊 कृपया इस न्यूज को शेयर करें😊

बस स्टॉप पर आए दिन प्राइवेट डग्गामार वाहन चालको द्वारा सवारियां भरे जाने का मामला अक्सर सुर्खियों में रहता है।

महमूदाबाद-सीतापुर ,LAHN : Anuj Kumar Jain    बस स्टॉप पर आए दिन प्राइवेट डग्गामार वाहन चालको द्वारा सवारियां भरे जाने का मामला अक्सर सुर्खियों में रहता है। नगर स्थित कस्बा चौकी के सामने मुख्य मार्ग पर उ०प्र० राज्य परिवहन निगम के बस चालक व मैजिक चालक के बीच सवारी बैठाने को लेकर मारपीट हो गई। जिसके बाद गुस्साए रोडवेज बस चालक ने बस स्टैंड के पास स्थित चौराहे पर ही बस को खड़ा कर दिया। ऐसे में मुख्य मार्ग पर वाहनों की जाम लग गई। घण्टों तक चले इस हाई वोल्टेज ड्रामे के समय जाम इतनी ज्यादा लग गई कि घंटो तक मुख्य मार्ग बाधित रहा। जिसकी सूचना राहगीरों ने कोतवाली पुलिस को दी। सूचना पाकर मौके पर पहुंचे कोतवाली प्रभारी अनिल सिंह ने अपने पुलिस बल की सहायता से मुख्य मार्ग पर लगी जाम को हटवाया। जिससे लोगों का आवागमन पुनः शुरू हो पाया।

रोडवेज बस चालको व परिचालकों ने आरोप लगाते हुए कोतवाली में एक लिखित प्रार्थना पत्र दिया है। आरोप है कि डग्गामार मैजिक वाहन चालक मंगलवार सुबह जब रोडवेज बस स्टॉप के ठीक सामने से ही सवारियां भरने लगा, तो रोडवेज बस चालक गुड्डू ने उसे सवारियों को बैठाने से मना किया तो दबंग डग्गामार वाहन चालक ने रोडवेज चालक से गाली गलौज कर अभद्रता की और उसे ड्राइविंग विंडो से खींचना चाहा, अभद्रता से गुस्साए बस चालक ने चौराहे पर अपनी बस खड़ी करके सड़क जाम कर दी, जिससे चौराहे पर जाम की स्थिति उत्पन्न हो गई, मौके पर पहुंची पुलिस ने किसी तरह रोडवेज चालकों से बातचीत करके यातायात पुनः बहाल करवाया। कोतवाल अनिल सिंह ने बताया विवाद की जानकारी होते ही मौके पर पहुंचकर विवाद को शांत कराया डागामार मैजिक वाहन चालक वाहन सहित फरार है, उसे ढूंढने का प्रयास किया जा रहा है। गौरतलब है कि सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक उत्तर प्रदेश परिवहन निगम का स्पष्ट आदेश है कि बस स्टैंड के 1 किलोमीटर के दायरे में कोई भी अवैध वाहन स्टैंड न संचालित होने पाए, बावजूद इसके रोडवेज बस स्टैंड से 200 मीटर की परिधि के अंदर ही प्राइवेट बस व मैजिक वाहनो के ड्राइवर सवारियां भरते देखे जा सकते है।

Whatsapp बटन दबा कर इस न्यूज को शेयर जरूर करें 

Advertising Space


[responsivevoice_button voice="Hindi Male"]