नमस्कार 🙏 हमारे न्यूज पोर्टल - मे आपका स्वागत हैं ,यहाँ आपको हमेशा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे +91 8894723376 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें , अयोध्या जैन मंदिर विकास का सन्देश लेकर रथ पहुँचा महमूदाबाद – लाइव ऑल हिमाचल न्यूज

अयोध्या जैन मंदिर विकास का सन्देश लेकर रथ पहुँचा महमूदाबाद

😊 कृपया इस न्यूज को शेयर करें😊

अयोध्या जैन मंदिर विकास का सन्देश लेकर रथ पहुँचा महमूदाबाद

महमूदाबाद (सीतापुर)रिपोर्टर-अनुज कुमार जैन

­

जैन धर्म की सर्वोच्च साध्वी आर्यिका गणिनी ज्ञानमती माता का अयोध्या तीर्थ क्षेत्र विकास का संदेश लेकर रथयात्रा शुक्रवार को महमूदाबाद पहुँची। जिसका जैन धर्मावलंबियों ने जोरदार स्वागत किया। रथयात्रा ने नगर भ्रमण कर रथ का स्वागत किया।

जैन धर्मावलंबियों को संबोधित करते हुए प्रतिष्ठाचार्य विजय जैन ने कहा कि अयोध्या जैन धर्म का प्रमुख तीर्थक्षेत्र है। जैन धर्म के पांच तीर्थंकरों ने इस धरा पर जन्म लिया। सर्वोच्च साध्वी भारत गौरव गणिनी आर्यिका ज्ञानमती माता जी अयोधया तीर्थ विकास के लिये लगातार संकल्पित हैं।

   सम्पूर्ण दिगम्बर जैन समाज को शाश्वत तीर्थ अयोध्या के लिए जागरूक होना है। यह हमारा अनादिकालीन तीर्थ है। क्योंकि हमारे आगम में दो ही शाश्वत तीर्थ माने गये हैं।  ऐसी शाश्वत तीर्थ अयोध्या का विकास पूज्य गणिनीप्रमुख श्री ज्ञानमती माताजी के आशीर्वाद से हम निरंतर कर रहे हैं। रथयात्रा ने बजाजा बाजार, बस स्टॉप, ऋषभगिरी तीर्थ होते हुए वापस मंदिर में समाप्त हुई।  कोमल जैन, इंद्रा जैन, शुभम जैन, सागर जैन, रितेश जैन ने रथ में पूजन वा बैठने का सौभाग्य प्राप्त किया।इस रथ यात्रा में जैन धर्मप्रेमी बन्धु मौजूद रहे।जैन धर्मावलंबियों को संबोधित करते हुए प्रतिष्ठाचार्य विजय जैन ने कहा कि अयोध्या जैन धर्म का प्रमुख तीर्थक्षेत्र है। जैन धर्म के पांच तीर्थंकरों ने इस धरा पर जन्म लिया। सर्वोच्च साध्वी भारत गौरव गणिनी आर्यिका ज्ञानमती माता जी अयोधया तीर्थ विकास के लिये लगातार संकल्पित हैं।

म्पूर्ण दिगम्बर जैन समाज को शाश्वत तीर्थ अयोध्या के लिए जागरूक होना है। यह हमारा अनादिकालीन तीर्थ है। क्योंकि हमारे आगम में दो ही शाश्वत तीर्थ माने गये हैं। ऐसी शाश्वत तीर्थ अयोध्या का विकास पूज्य गणिनीप्रमुख श्री ज्ञानमती माताजी के आशीर्वाद से हम निरंतर कर रहे हैं। रथयात्रा ने बजाजा बाजार, बस स्टॉप, ऋषभगिरी तीर्थ होते हुए वापस मंदिर में समाप्त हुई। कोमल जैन, इंद्रा जैन, शुभम जैन, सागर जैन, रितेश जैन ने रथ में पूजन वा बैठने का सौभाग्य प्राप्त किया।इस रथ यात्रा में जैन धर्मप्रेमी बन्धु मौजूद रहे।

Whatsapp बटन दबा कर इस न्यूज को शेयर जरूर करें 

Advertising Space


[responsivevoice_button voice="Hindi Male"]