नमस्कार 🙏 हमारे न्यूज पोर्टल - मे आपका स्वागत हैं ,यहाँ आपको हमेशा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे +91 8894723376 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें , इतिहास में ऐसे मौके कभी कभी आते है की देश का प्रधानमंत्री देश नेतृत्व विदेशों में बड़ी खूवी से करता है. जिसके देश के लिए सकारात्मक दूरगामी परिणाम होते हैं देश के प्रधानमंत्री में यह खासियत है कि देश हित में वह हर कदम उठाते हैं जो अवश्य हो – लाइव ऑल हिमाचल न्यूज

इतिहास में ऐसे मौके कभी कभी आते है की देश का प्रधानमंत्री देश नेतृत्व विदेशों में बड़ी खूवी से करता है. जिसके देश के लिए सकारात्मक दूरगामी परिणाम होते हैं देश के प्रधानमंत्री में यह खासियत है कि देश हित में वह हर कदम उठाते हैं जो अवश्य हो

😊 कृपया इस न्यूज को शेयर करें😊

 दि­ल्ली: इतिहास में ऐसे मौके कभी कभी आते है की देश का प्रधानमंत्री देश नेतृत्व विदेशों में बड़ी खूवी से करता है. जिसके देश के लिए सकारात्मक दूरगामी परिणाम होते हैं देश के प्रधानमंत्री में यह खासियत है कि देश हित में वह हर कदम उठाते हैं जो अवश्य हो .

इसी के चलते विदेशी धरती ब्रिक्स समिट के लिए जोहान्सबर्ग गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के बीच संक्षिप्त बातचीत हुई है। सोशल मीडिया पर एक तस्वीर और वीडियो काफी शेयर हो रही है जिसमें ब्रिक्स सदस्य देशों के नेता मुस्कुराते हुए मिलते दिख रहे हैं। इसमें जिनपिंग मोदी की तरफ देख रहे हैं। एक वीडियो में मोदी हाथ के इशारे से जिनपिंग से कुछ कहते भी दिखते हैं। दक्षिण अफ्रीकी मीडिया में प्रसारित वीडियो में मोदी और शी बातचीत करते दिखे तो भारत में चर्चा शुरू हो गई। पिछले साल नवंबर में बाली में जी20 शिखर सम्मेलन में रात्रिभोज के दौरान दोनों नेताओं के बीच कुछ इसी तरह की बातचीत हुई थी। ​ऐसे में जब दक्षिण अफ्रीका में मोदी और शी के बीच मुलाकात हुई तो लोग यह जानना चाहते हैं कि दोनों नेताओं में क्या बात हुई? मई 2020 में भारत और चीन के सैनिकों के बीच झड़प के बाद से दोनों देशों के संबंध तनावपूर्ण चल रहे हैं। चीन कई इलाकों में अड़ा हुआ है। तीन साल से राजनयिक और सैन्य स्तर पर चर्चा हो रही है लेकिन समस्या जस की तस है। कई क्षेत्रों से दोनों देश अपने सैनिक पीछे हटा चुके हैं लेकिन पूर्वी लद्दाख के देपसांग और डेमचोक पर बात नहीं बनी है। गौरतलब है कि चीन व पाकिस्तान को लेकर मोदी के इरादे जगजाहिर है

 

Whatsapp बटन दबा कर इस न्यूज को शेयर जरूर करें 

Advertising Space


[responsivevoice_button voice="Hindi Male"]