नमस्कार 🙏 हमारे न्यूज पोर्टल - मे आपका स्वागत हैं ,यहाँ आपको हमेशा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे +91 8894723376 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें , ट्रक से हुई युवक की मौत के चलते पुलिस कार्यवाही को लेकर नाराज़ किसान यूनियन  – लाइव ऑल हिमाचल न्यूज

ट्रक से हुई युवक की मौत के चलते पुलिस कार्यवाही को लेकर नाराज़ किसान यूनियन 

😊 कृपया इस न्यूज को शेयर करें😊

ट्रक से हुई युवक की मौत के चलते पुलिस कार्यवाही को लेकर नाराज़ किसान यूनियन 

 महमूदाबाद सीतापुर, जिला संवाददाता रिपोर्ट-अनुज कुमार जैन

गत दिनों रामकुंड चौराहे पर पैंतेपुर मोड़ पर ट्रक चालक द्वारा शुभम वर्मा नामक युवक पर किसी कारणवश ट्रक से दुर्घटना कारित हुई थी, जिसको लेकर स्थानीय किसान यूनियन पीड़ित परिवार के साथ है। ऐसी एक पोस्ट सोशल मीडिया पर की गई है। किसान यूनियन के कार्यकर्ता ने अपनी पोस्ट में लिखा है कि मृतक शुभम के छोटे भाई से सादे कागज पर कोतवाली महमूदाबाद में प्रार्थना पत्र पर साइन करवा लिये गये, और मनमानी तरीके से एप्लीकेशन ट्रक चालक के पक्ष में लिख ली, दूसरे दिन पीड़ित परिवार एप्लीकेशन देने गया तो बताया गया कि एप्लीकेशन तो कल ही आपके बेटे ने दे दी थी जबकि उस वक्त एप्लीकेशन देने की हालत में कोई नहीं था, किसान यूनियन का कहना है कि पूर्व नगर पालिका प्रत्याशी अतुल वर्मा द्वारा भी बताया गया था कि एप्लीकेशन कल दे दी जाएगी पोस्टमार्टम की प्रक्रिया पूर्ण हो जाने दीजिए, आरोप यह भी लगाया गया है कि ट्रक और ट्रक ड्राइवर दोनों पुलिस की हिरासत में आने के बाद ट्रक ड्राइवर को छोड़ दिया गया। आज तक यह नहीं बताया गया कि ट्रक ड्राइवर कहां का रहने वाला है और उसका नाम क्या है, आखिर क्यों,। किसान यूनियन के एक कार्यकर्ता ने सोशल मीडिया के माध्यम से अवगत कराया है कि इसके चलते रमेश बाजपेई, अतुल वर्मा, पूर्व मंत्री नरेंद्र सिंह वर्मा द्वारा इस लड़ाई में पूर्ण सहयोग करने और न्याय दिलवाने का आश्वासन पीड़ित परिवार को दिया गया है।

भारतीय किसान यूनियन के जिला अध्यक्ष गणेश वर्मा ने बताया कि यदि पीड़ित पक्ष के द्वारा दी गई एप्लीकेशन के तहत मुकदमा दर्ज नहीं किया गया तो भारतीय किसान यूनियन ज्ञापन देकर धरना प्रदर्शन करने के लिए बाध्य होगी इसकी समस्त जिम्मेदारी शासन प्रशासन की होगी। इस संबंध में कोतवाली प्रभारी ने बताया कि जो तहरीर मृतक के भाई द्वारा दी गई थी, उसके अनुसार ही प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज की गई है, और किसी को हिरासत में लेकर बाद में छोड़ा नही गया है, यह आरोप निराधार है।

Whatsapp बटन दबा कर इस न्यूज को शेयर जरूर करें 

Advertising Space


[responsivevoice_button voice="Hindi Male"]